Bheem Sangh

ambedkar     भीम संघ भारत के  मूलनिवासियों का एक संगठन है। भीम संघ का मुख्य उद्देश्य सभी मूलनिवासी लोगों को एक मंच पर एकत्रित करना है। जिसमें किसी भी मूलनिवासी की जाति या धर्म पर कोई विचार नहीं किया जायेगा, क्योकि सभी मूलनिवासियों को जातिव्यवस्था में विदेशी आर्यों ने बांटा हुआ है। ताकि मूलनिवासी जाति और धर्म के नाम पर लड़ते झगडते रहे, कभी भी एक ना हो सके और देश पर विदेशी आर्यों का शासन बिना रोक-टोक चलता रहे। भीम संघ के लिए मूलनिवासी चाहे वो किसी भी जाति से हो, सिर्फ भारत का मूलनिवासी है। अर्थात भीम संघ का उद्देश्य सभी मूलनिवासियों को एक मंच पर बिना किसी जाति या धर्म पर विचार किये एकत्रित करना है। ताकि देश में मनुवाद द्वारा स्थापित झूठे धर्म, आडम्बर, पाखंड, अन्धविश्वास और शोषण आदि पर आधारित शासन व्यवस्था को समाप्त करके देश में मूलनिवासियों की समता, बंधुत्व और न्याय वाली शासन व्यवस्था स्थापित की जा सके। भीम संघ कोई राजनीतिक संगठन नहीं है और ना ही भविष्य में कोई राजनीतिक संगठन बनाएगा। भीम संघ मूलनिवासियों को मनुवाद की सचाई बता कर देश में समता, बंधुत्वऔर न्याय का शासन स्थापित करने के लिए प्रयास करने वाला संगठन है। डॉ. भीम राव आंबेडकर भीम संघ के मुख्य आदर्श पुरुष है। डॉ. भीम राव अम्बेडकर की विचारधारा अम्बेडकरवाद में भीम संघ का अटूट विश्वास है और भीम संघ मानता है कि मूलनिवासी समाज के लोगों का हित सिर्फ अम्बेडकरवाद में ही छुपा हुआ है। दूसरा कोई रास्ता मूलनिवासियों को मनुवाद या ब्राह्मणवाद से छुटकारा नहीं दिला सकता।

ब्राह्मणवादियों ने पिछले 2000 सालों से मूलनिवासियों के खिलाफ अघोषित युद्ध छेड़ रखा है। मूलनिवासियों को धर्म और जाति के नाम पर बाँट कर मूलनिवासियों को मूलनिवासियों के हाथों समाप्त करता जा रहा है।  मूलनिवासी समाज के लोगों को जाति और धर्म के नाम पर बांटा हुआ है। जब तक मूलनिवासी जाति और धर्म के नाम पर बंटे रहेंगे, तब तक मूलनिवासी ब्राहमणवादियों के इस अघोषित युद्ध का सामना नहीं कर सकते। ब्राह्मणवादियों इसी अघोषित युद्ध के खिलाफ लड़ने के लिए भीम संघ का निर्माण किया है।  हमारी मूलनिवासी नौजवानों से प्रार्थना है कि अपने समाज के हित के लिए आगे आये। ब्राह्मणवादी द्वारा बनाई गई जाति और धर्म व्यवस्था को छोड़ कर सभी मूलनिवासियों तक भीम संघ का सन्देश पहुंचाए। ब्राह्मणवाद के पाखंड, धर्म, आडम्बरों और शोषण की नीति से हर मूलनिवासी को अवगत करवाए। देश के हर कोने में भीम संघ नाम से ईकाइयां संगठित जायेगी और कैडर सिस्टम को फिर से शुरू किया जायेगा। जिसमें भीम संघ की ईकाइयों केपदाधिकारी और सदस्य मूलनिवासियों के घर जा-जा कर भीम संघ का सन्देश सभी मूलनिवासियों तक पहुंचायेगी। देश के सभी मूलनिवासियों को अम्बेडकर विचारधारा के साथ जोड़कर भीम राव अम्बेडकर के सपनों का भारत बनाने का प्रयास किया जायेगा।

भीम संघ के उद्देश्य:

1. सभी मूलनिवासियों को एक मंच पर एकत्रित करना।
2. मूलनिवासियों के बीच से जाति प्रथा को समाप्त करना।
3. मूलनिवासियों को सही और तथ्यों पर आधारित इतिहास बताना।
4. मूलनिवासी बच्चों को अच्छी शिक्षा मिले, और इसके लिए प्रयास करना।
5. धर्म के पीछे छुपे आडम्बरों, पाखंडों और अंधविश्वासों की सचाई को तथ्यों के साथ मूलनिवासियों तक पहुँचाना।
6. मूलनिवासियों पर होने वाले अत्याचारों और शोषण के खिलाफ आवाज उठाना।
7. भीम राव अम्बेडकर का सन्देश हर मूलनिवासी तक पहुँचाना और मूलनिवासियों को अम्बेडकरवाद से जोडना।
8. देश में जिला स्तर पर भीम संघ की इकाइयां गठित करना और कैडर सिस्टम को फिर से शुरू करना।
9. डॉ. भीम राव अम्बेडकर के सपनों का भारत बनाने के लिए भीम संघ की ईकाइयों को मूलनिवासियों के घर घर जा कर संगठित करना।
10. मूलनिवासियों को अन्धविश्वास, अंधश्रधा और तर्कहीन धर्म के चक्रव्यूह से मुक्त करके विज्ञानं के धर्म को मानने के लिए प्रेरित करना।

भीम संघ के आदर्श:
dr_20bhimrao20ambedkar naryanan_guru mahatma_phule

mahatma_budha guru-ravidas sant-kabir-das

     भीम संघ अपने आदर्श महापुरुषों की विचारधारा से प्रेरित होकर, सभी मूलनिवासी समाज के लोगों को एक मंच पर एकत्रित करने के लिए प्रयास रत है। यह बात सही है कि केवल भीम संघ के पदाधिकारी अपने महापुरुषों का सपना पूरा करके उनके सपनों का भारत नहीं बना सकते। इसीलिए भीम संघ को मूलनिवासी समाज के सभी लोगों की सहायता चाहिए। आप सभी से प्रार्थना है कि भीम संघ के सदस्य बने, अपने समाज के प्रति अपनी जिमेवारियों को समझे और देश के हर घर तक भीम सघ का सन्देश पहुँचाने में हमारी मदद करे।

Keep Reading and Ask All Mulnivasi peoples to Join BHEEM SANGH. -भीम संघ

37 Responses to Bheem Sangh

  1. sonu darvid says:

    mujhko sabhi ko sath lekar chalna he jai bhim

  2. rakesh devada says:

    Ap sirf sc ki bat kar rahe ho ya sc St obc sabhi ki ye spashtata kare. Mulniwasi yani kon details me bataye.

    • Brij Kishor Shakya says:

      Dear Rakesh,

      I would like to address you, that we are one, SC ST OBC or other converted minorities in India, This divide and rule formulated by these Upper caste People (Brahmins) only. We are internally and externally the same even our DNA proves that we are same except Upper caste people.

      So in short dear Rakesh forget from which caste you belong and believe we are same and we have to educate our society people as we can.

  3. Rajeshwar Baitha says:

    Aapka prayas sarahniya hai. SC,ST aur OBC ko ikattha saath lekar chalna hoga. Jai Bheem. Jai Moolnivasi.

  4. william paul says:

    Sabhi logon ka sath pane ke liye jo bhi founder hai is sanghtan ke detail daley jisase jo nahi jante vo bhi aapke niji jeewan ke jud sake kyon ki baba saheb ke naam se pahle bhi kafi sanghtan kam kar tahe hai .jai bheem.

  5. sunil podia says:

    Jai bhim

  6. How can i joine this

  7. mukendra Sonker says:

    I like that

  8. Prashant Kanauziya says:

    हम सब मुलनिवासी एक हैं।
    संगठन और एकता के साथ मिलकर काम करना चाहिए।
    जय भीम – जय भारत – जय गाडगे महाराज

  9. Ashish Gautam says:

    Jai bharat jai bheem

  10. devendra Singh says:

    Me is itihas k bare me jyda se jyda jana chahta hu
    Ye music bht achi h rastriya istar Par iska prachar prasar hona chaiye

  11. lata says:

    It is good to be aware of the fact and I support to help you by bringing awareness among people

    • Gurpal Singh says:

      Hame jai bheem she pehele jai moolniwasi kehena hoga. Tabhi doosare logon yani OBCs ko vishvas mein laya ja sakega ki Baba Sahab sabhi moolniwasiyon ke hain.

    • sushil Kumar says:

      इस संघ के लोगों के आँखों पर अग्यानता का चश्मा चढ़ा हुआ है ।वे वही बोल रहे हैं जो मुस्लिमों और अँग्रेजों के इतिहास में ‘ फुट डालो और राज करो ‘नीति के अनुरूप कहा गया है।इनका भी यही सोंच है कि SC,ST,OBC को बहका कर इनकी ताकत पर देश की सत्ता पर कब्जा किया जाय और अपने विदेसी आकाओं को खुश करते हुए देश को पुनः गुलाम बना दिया जाय।सच जानना ही है तो संबंधित प्राचीन ग्रन्थों को पढ़े या बाबा साहब अम्बेदकर को ही पढें। देश के साथ द्रोह न करें।

  12. B K Arya says:

    Good initiation. Keep it up.

  13. Pranay says:

    Baba Saheb ke bare me bohot log nahi jante, ab iss Sangh ke madhayam se janne lagenge ye sab bharatwasiyon ke liye achchhi bat hai.
    JAY BHIM.

  14. Dhananjay says:

    Jai bhim

  15. Paresh prabhakar jadhav says:

    भीम संघ मुझे भी शामील होना है

  16. Tushar Bawangade says:

    I want to join bheemsangh

  17. DInesh Ramesh ambhore says:

    It’s very good thought and I am very intrested to join this bhim Singh
    Jai bhim.namo buddha

  18. Prashant Ahire says:

    Good work
    Carry on

  19. Kitab Singh Nimbran says:

    जय भीम साथियो,मेरा आप सभी से यही प्रार्थना है कि बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर जी के आदेशानुसार चलो और फिर हमारी जीत होगी और बाबा साहब का सपना पूरा हो जाएगा

  20. मैंने भीमसंघ का सदस्यता फार्म भर दिया है। पर मेरे मोबाईल पर ऐसा कोई भी मेसेज प्राप्त नहीं हुआ है, जिससे मुझे ये विश्वास हो कि मेरा फार्म स्वीकार कर लिया गया है।
    या फिर मैं मेरे सदस्यता फार्म को रद्द समझूँ।
    कृपया मेसेज द्वारा मेरा मार्गदर्शन करने की कृपा करें।

    जय मूलनिवासी

  21. sushil Kumar says:

    इस संघ के लोगों के आँखों पर अग्यानता का चश्मा चढ़ा हुआ है ।वे वही बोल रहे हैं जो मुस्लिमों और अँग्रेजों के इतिहास में ‘ फुट डालो और राज करो ‘नीति के अनुरूप कहा गया है।इनका भी यही सोंच है कि SC,ST,OBC को बहका कर इनकी ताकत पर देश की सत्ता पर कब्जा किया जाय और अपने विदेसी आकाओं को खुश करते हुए देश को पुनः गुलाम बना दिया जाय।सच जानना ही है तो संबंधित प्राचीन ग्रन्थों को पढ़े या बाबा साहब अम्बेदकर को ही पढें। देश के साथ द्रोह न करें।

  22. Chandrika prasad nagvanshi says:

    Mai U.P. Basti ka rahane wala hu mai bheem sangh ke bichar apane dist ke logo tak pahuchane ko taiyar hu.

    mujhe apane dist me भीम संघ जिला इकाई ka karyalay kolana chahata hu so plese me is number par contect kar ke mujhe salah de.

  23. ARUN KUMAR says:

    हम सभी भारतीय है ।

  24. राजेंद्र निमीवाल एडवोकेट हनुमानगढ़ जंक्शन राजस्थान मोबाइल फोन नंबर वाटसअप नम्बर 09828155913 व 8947871260 says:

    जय मूल निवासी जय भारत जय बा फूले जय मूल ओबीसी जय भारत जय मानवतावाद अम्बेडकरवाद समाजवाद जिन्दाबाद इन्कलाब जिन्दाबाद तख्त बदल दो ताज बदल दो बेईमानों का राज बदल दो ✌। दूनियां मनदी जोरां नू लख लानत है कमजोरां नूं। बकरे बनकर जिये अगर हम तो बली की बेदी पर चढ़ जाएगें एक दिन शेर बनने का वादा करो साथियों राज अपना बनाने का वादा करो साथियों राज अपना बनाने का वादा करो साथियों।

  25. Rajender Nimiwal 52 says:

    जय मूल निवासी जय भारत जय बा फूले जय भीम जय भारत जय मानवतावाद अम्बेडकरवाद समाजवाद जिन्दाबाद इन्कलाब जिन्दाबाद तख्त बदल दो ताज बदल दो बेईमानों का राज बदल दो ✌

  26. vikas kumar says:

    Good thinker
    May I join

  27. DDEVENDRA KUMAR PATEL says:

    जय भीम।
    जय मूलनिवासी।
    जय हिन्द।

  28. RAJESHWAR PRASAD says:

    Main bhi bheem sangh se judna chahta hun.

  29. RAJESHWAR PRASAD says:

    Bheem sangh se judna chahta hun.

  30. Jay mulniwasi jay him
    Jay aadiwasi

  31. Jay Bhim says:

    जय भीम। Aur ye sab logo ke liye he ye kisi cast ko simit nahi he Babasaheb ne vichat prastut kiye the vo pure samaj ke liye the

  32. Soran Ram says:

    मुझे भारत देश को मनुवाद से आज़ाद करना है।

  33. Al prajapati says:

    Sangadhan ko majboot karna aur sabhi mulniwasi bhaiyo ko gagrit karna hamara lakya ha jay bhim

  34. raj kumar says:

    sir, it is stated that SC,ST and OBC are Mulniwasis. People who are not Brahmins, Kashtrias nor Vaisa but called him Jat Chawla Bhatia etc and apply in service under general category are not mulnivasi

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s