Girls Conditions India


2011 में दिल्ली में हुए बलात्कार के लिए तो करोड़ों लोग अपनी जान की परवाह किय बगैर खड़े हो गए.. क्योकि मामला एक ब्राह्मण लड़की का था… परन्तु इस दलित लड़की प्रियंका(18 साल) की क्या गलती थी..? इस लड़की में क्या कमी थी? 29 अगस्त 2006 में इस मासूम लड़की से तीन लोगों ने बलात्कार किया.. और मार कर सड़क के किनारे फेंक दिया गया? इस लड़की की एक ही गलती थी.. ये लड़की दलित जाति से सम्बंधित थी.. भारत में 90 करोड़ दलित है.. 2-4 मर भी गए तो क्या फर्क पड़ता है..? सभी ब्राह्मणवाद के शिकार हुए आपस में कुत्तों और बंदरों की तरह लड़ते रहते है.. ये मेरी जाति.. ये मेरा धर्म..!! आज ऐसी हजारों घिनौनी हरकतें हर रोज होती है.. हजारों लड़कियों की जिंदगी बर्बाद हो जाती है.. लेकिन किसी को जाति और धर्म से समय मिले तभी तो इन मासूम बेटियों के बारे सोचेंगे ना? नहीं तो किस के पास समय है.. क्यों आन्दोलन करे.. आज दूसरों के घरों में आग लगी है.. तो तमाशा देखते रहते है.. कल को अपने घर में भी आग लगेगी तो भी सिर्फ तमाशा ही देखेंगे..
कभी कभी शर्म आने लगती है मुझे भी कि मैं किन मुर्दा हो चुके इंसानों को जगाने के लिए लिख रहा हूँ.. dalit-girlलेकिन मेरी आत्मा नहीं मानती.. एक दर्द-एक एहसास मुझे मेरी आत्मा में महसूस होता है… आँखे भर आती है.. और हाथ फिर से लिखने के लिए मजबूर हो जाते है… कब तक मेरे लोग मूर्खों की तरह मेरी जाति मेरा धर्म के नाम पर लड़ते रहेंगे? दोस्तों, उठो और आँखे खोलो… ये जाति या ये धर्म तुम्हारे नहीं है.. क्यों इन जातियों और धर्मों को बंदरी के मृत बच्चे की तरह सीने से लगा रखा है.. जिसको बंदरी तब तक नहीं छोड़ती जब तक उसको अगला बच्चा नहीं हो जाता… दोस्तों, छोड़ दो इन जातियों और धर्म को.. इन से बदबू आने लगी है… सच को समझो… यह 2013 है.. विज्ञान का धर्म मानो.. विज्ञान जिस बात को साबित करे उस बात पर विश्वास करो… आँखे बंद कर के अपना और अपने बच्चों का भविष्य बर्बाद ना करो.. कभी समय मिले तो सोचना हमारी आने वाली पीढियां हमारे बारे क्या सोचेंगी? आने वाली पीढियां हम लोगों को नपुंसक और हिजड़ों जैसे शब्दों से अलंकृत करेगी..

भारत में 90% बलात्कार ब्राह्मण, राजपूत और वैश्य ही करते है.. आवाज उठाओ.. आगे बढ़ो.. बाबा साहब जी ने जो अधिकार दिलाये है उनका सम्मान करो.. बाबा साहब जी की जय बोलने से कुछ नहीं होगा.. उनके दिखाए रास्ते पर चलो.. उनके दिए अधिकारों का प्रयोग करो.. यही बाबा साहब जी के लिए सच्चा सम्मान और सम्मान होगा.. कमी बाबा साहब जी की सोच में नहीं तुम लोगों में है.. जो आवाज नहीं उठाते… अपने विचार व्यक्त नहीं करते… संगठित नहीं होते.. संघर्ष नहीं करते… विज्ञान की जगह अंध विश्वासों के नाम पर जाति और धर्म को बढ़ावा देते हो…

2012 में दिल्ली में बलात्कार हुआ.. दोषी कौन थे? शर्मा और ठाकुर..??? मरने वाली लड़की कौन? उच्च जाति की.. उसके लिए पूरा भारत एक तरफ हो गया… लेकिन जब एक दलित लड़की की हत्या होती है… उसका बलात्कार होता है तो तुम लोगों की अंतरआत्मा कहा मर जाती है?? ऊँची जाति की लड़की के लिए चिलाने वाली तुम्हारी जुबान खामोश क्यों हो जाती है?? मीडिया के दलालों ने भी उस बलात्कार को ऐसे उठाया जैसे पता नहीं सारी उच्च जाति की महिलाओं के साथ बलात्कार हो गया हो.. नाम दिया गया “दामिनी बलात्कार केस”.. जब एक मूल निवासी लड़की की बात आती है तो उसे नाम दिया जाता है “प्रियंका” और केस बंद.. आखिर क्यों ? क्या देश के 90 करोड़ लोगों का इस देश पर कोई अधिकार नहीं है? क्या देश में कानून नाम की चीज़ सिर्फ उच्च जाति के लोगों की रक्षा के लिए बनी है? 90 करोड़ मूल निवासियों को न्याय का कोई हक नहीं है? मीडिया तक के कान बंद हो जाते है जब दलित लोगों पर अत्याचार होते है…. सारे मीडिया कर्मियों के बाप मर जाते है और वो मौन धारण कर के बैठ जाते है.. लेकिन क्यों??? दोस्तों, जागो, उठो और आवाज उठाओ… ये देश हमारा है… हम इस देश के असली शासक है… बाबा साहब जी की आवाज पर चलो.. विज्ञान के धर्म को मानो और सच पर विश्वास करो.. अम्बेडकरवाद में विश्वास रखो.. ऐसी कोई समस्या नहीं है जिसका हल अम्बेडकरवाद में ना हो.. अपने आप को अकेला ना समझे.. हम और हमारी टीम के सभी सदस्य आप लोगों के साथ है.. आप भी हमारी टीम के साथ जुड़ सकते हो.. आज ही हमारी वेबसाइट पर जाये और मुफ्त में हमारी टीम के सदस्य बने.. अपने दोस्तों, रिश्तेदारों और दुसरे अपने समाज के लोगों को भी हमारी टीम का सदस्य बनने के लिए प्रेरित्त करे.. आओ हम मिल कर आवाज उठाये.. सभी मूल निवासियों को जागरूक बनाये.. और भारत पर मूल निवासियों के शासन की फिर से स्थापना करें……

Advertisements

About Bheem Sangh

Visit us at; http://BheemSangh.wordpress.com
This entry was posted in Current Affairs and tagged , , , , . Bookmark the permalink.

6 Responses to Girls Conditions India

  1. Ulhas B.Durge says:

    Nice…Information

  2. GeetaArya. says:

    Sir mai bhut bhut effective hui hu in sb facts ko jaankr. Ek baat puchna chahti hu kya aap aur aapki team mera sath degi kyoki mai apna jeevan hmare samaj k liye lgana chahti hu. In generals ko India se bhgana h at least inhe apne se niche rkhna bhut jruri h.

  3. Asim says:

    Bhedbhav is desh ka durbhagya hai.hame jagrook hona hoga.warna babe sahab ke sapne kabhi sakar nahi honge.

  4. abdulrahug says:

    We r Togather against crime

  5. C L SAGAR says:

    IHAVING GONE ON THIS DETERMINATION THAT we HAVESENSE OF CATISTISM IN OUR DALIT GROUP .SO I REQUEST TO ALL COME TO ON ONE STAGE AND UNITE THEN FIGHT TO AGAINST ATTROCITIES WHICH ARE MADE BY OTHERS GROUPS
    BE READY FOR UNITE
    THANKS

  6. sushil verma says:

    Kahna to bilkul sahi hai Lekin hota kya hai Bhai Hamlog Apne app me bikhar jate bakt ata hai tab chota sa lobh me khud ushi ke chngul me chale jate hai Tab awaj kaha se uthega jai bhim kahne se shirf hoga unki soch pe chalna hoga tab jai bhim pura hoga me bhai

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s