Geeta Ka Sach


भगवद गीता की एक अनसमझी बात जिस से बराह्मणवादी लोग डराकर हजारो सालो से लोगो को लुटते आ रहे है कृपया ध्यान पूर्वक पढे गीता में कहा गया है
आत्मा अजर है ।
आत्मा अमर है ।
ना इसको आग जला सकती है ।
ना इसको पानी भीगो सकता है ।
ना इसको शस्त्र काट सकते हैं ।

Gita simplifiedअबे मूर्खो जब आत्मा को ना जलाया जा सकता हैतो फिर नर्क की भट्टी में किसको जलाओगे ?
जब आत्मा को काटा नहीं जा सकता है तो फिर नर्क में कीलो के बिस्तर पर किसको सुलाओगे ?
फिर आत्मा के टुकड़े करके उसके पकोड़े कैसे तलोगे ?
जब आत्मा मरती नही तो दुनिया की आबादी स्थिर रहनी चाहिए तो ये बढ़ क्यों रही है ?
भैया जब आत्मा के साथ कुछ किया ही नहीं जा सकता तो फिर नर्क में सजा किसको और किस प्रकार दोगे?
क्यों नर्क के नाम पर लोगो को डराकर अपनी जेब भरने का तुम्हारा धंधा तो खूबफल फूल रहा है ना?
पता नहीं तुम्हारे षड्यंत्र को कब समझेंगे लोग………

Advertisements

About Bheem Sangh

Visit us at; http://BheemSangh.wordpress.com
This entry was posted in Scriptures and tagged , . Bookmark the permalink.

One Response to Geeta Ka Sach

  1. Chandan kudmi says:

    Wow.. बहुत ही मस्त।।। एकदम सही चीज पकडे सर।।।।
    अब तो ब्राह्मण का बेंड बजा दूंगा।।
    जय मूलनिवासी

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s