Ravidas Amrit Vani


संत श्री गुरु रविदास जी महाराज ने अपने जीवन काल में 40 वाणियों की रचना की थी। जो सिखों के गुरु ग्रन्थ साहिब जी में भी लिखी गई है, इतनी महान वाणियाँ आज इन्टरनेट पर कही भी उपलब्ध नहीं है। संत श्री गुरु रविदास जी महाराज की ये अनमोल वाणियाँ सभी को उपलब्ध हो इसी उदेश्य से गुरु जी महाराज की वाणियों को यहाँ डाउनलोड के लिए दी गई है। ये 40 वाणियाँ गुरु जी की अनमोल रचनाएँ है और हर मूल निवासी इन वाणियों को पढ़ और समझ सके इस लिए ये वाणियाँ हिंदी और पंजाबी दोनों भाषाओँ में यहाँ उपलब्ध है। कृपया नीचे दिए गए हिंदी और पंजाबी लिंक पर क्लिक करे और गुरु महाराज की वाणियों को PDF में प्राप्त करें। आप इन वाणियों को प्रिंट भी कर सकते है, और अपने समाज से सभी वर्गों तक पहुंचा सकते है:

1. रविदास जी महाराज की वाणियाँ-हिंदी
2. रविदास जी महाराज की वाणियाँ-पंजाबी

Advertisements

About Bheem Sangh

Visit us at; http://BheemSangh.wordpress.com
This entry was posted in Books and tagged . Bookmark the permalink.

4 Responses to Ravidas Amrit Vani

  1. nikhil parikh says:

    thanks sir

  2. dr.db Parikh says:

    Plz ravidas ji ki bani ka audio bhi upload kijie

  3. Ashok Bhuranday says:

    Jai Bheem

  4. vijay says:

    Thanks sir apne hame shri guru ravidas ji maharaj ki vani pdf file bhent karke ek bahut achha uphar diya h

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s